love-shayari
shayari

Love Shero Shayari In Hindi Part 4

Love Shero Shayari In Hindi Part 4

Previous Page          Next

मुझे तो न कोई आसमान चाहिये,
मुझे तो न कोई जहाँ चाहिये,
तू तो सितारों की एक महफ़िल है,
बस उस पूरी महफ़िल में से बस एक तू चाहिए।

मैंने कहा जान है तू मेरी,
मैंने कहा ज़िन्दगी है तू मेरी,
कभी मुझसे जुदा होने की सोचना भी मत,
क्योंकि पहचान है तू मेरी।

मेरे दिल में तेरे लिए प्यार आज भी है,
माना की तुझे मेरे प्यार पर शक आज भी है,
नाव में बैठ कर धोये थे हाथ तालाब के पानी में,
उस तालाब में तेरे हाथो की मेहँदी की खुशबू आज भी है।

प्यार तो जिंदगी का अफसाना है,
प्यार का तो अपना ही एक तराना है,
सबको पता है की इश्क में सिर्फ मिलते आंसू ही हैं,
फिर भी ये ज़माना इसका दीवाना है।

दिल का एहसास जानना है तो प्यार करके देखो,
अपनी आँखों में किसी को उतार कर तो देखो,
चोट उन्हें लगेगी दर्द तुम्हे होगा,
जरा अपना दिल एक बार हार कर तो देखो।

दिल के रिश्ते का कोई नाम नही होता,
हर रास्ते का कोई मुकाम नही होता,
अगर निभाने की चाहत हो दोनों तरफ,
कसम से कोई रिश्ता नाकाम नही होता।

कुछ नशा तो आपकी बात है,
कुछ नशा तो ये धीमी बरसात का है,
आप यूँ ही हमे शराबी न कहिए,
क्योंकि कुछ नशा तो आपकी मुलाकात का है।

Previous Page          Next

2 Replies to “Love Shero Shayari In Hindi Part 4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *